अखिल भारतीय बाघ अनुमान सर्वेक्षण 2018 रिपोर्ट जारी की गयी

केंद्रीय पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय ने हर साल 29 जुलाई को मनाए जाने वाले वैश्विक बाघ दिवस की पूर्व संध्या पर अखिल भारतीय बाघ अनुमान सर्वेक्षण 2018 की रिपोर्ट जारी की है।

रिपोर्ट के मुख्य बिंदु

  • देश में कुल 50 टाइगर रिजर्व हैं, हालांकि उनमें से तीन – डम्पा रिजर्व (मिजोरम), बक्सा रिजर्व (पश्चिम बंगाल) और पलामू रिजर्व (झारखंड) में कोई बाघ नहीं बचा है।
  • उत्तराखंड में कॉर्बेट टाइगर रिजर्व में देश में सबसे अधिक 231 बाघ हैं, इसके बाद क्रमशः कर्नाटक में नागरहोल और बांदीपोरा रिजर्व में 127 और 126 बाघ हैं।
  • सिमलिपाल (ओडिशा), अमराबाद और कवाल (तेलंगाना), नागार्जुनसागर श्री सेलम (आंध्र प्रदेश), संजय-डुबरी (मध्य प्रदेश), नमेरी और मानस (असम), आदि जैसे बाघ अपनी समग्र क्षमता से नीचे बाघ हैं और उन्हें संसाधनों की आवश्यकता है।
  • मध्य प्रदेश में देश में बाघों की सबसे अधिक संख्या 526 है और कर्नाटक में बाघों की संख्या 524  और उत्तराखंड में 442 बाघ हैँ।
  • दुनिया में 13 बाघ श्रेणी के देश हैं – भारत, बांग्लादेश, भूटान, कंबोडिया, चीन, इंडोनेशिया, लाओ पीडीआर, मलेशिया, म्यांमार, नेपाल, रूस, थाईलैंड और वियतनाम।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,