अमेरिकी कंपनी मास्टरकार्ड अगले 5 वर्षों में भारत में 1 अरब डॉलर का निवेश करेगी

अमेरिकी कंपनी मास्टर कार्ड ने अगले पांच वर्षों में देश में 1 अरब डॉलर (लगभग 7,000 करोड़ रुपये) के निवेश की घोषणा की है। 350 मिलियन डॉलर भारत में भुगतान प्रसंस्करण केंद्र की स्थापना में व्यय किये जायेंगे। दरअसल भारतीय रिज़र्व बैंक के निर्देश के मुताबिक सभी भुगतान डाटा को भारत में ही स्टोर किया जाना अनिवार्य है। भुगतान प्रसंस्करण केंद्र अगले 18 महीने में शुरू हो जायेगा, इससे 1000 लोगों को रोज़गार प्राप्त होगा। गौरतलब है कि यह भुगतान प्रसंस्करण केंद्र मास्टर कार्ड का अमेरिका के बाहर पहला भुगतान प्रसंस्करण केंद्र होगा। इस केंद्र का निर्माण महाराष्ट्र के पुणे में किया जा सकता है। भारत सरकार द्वारा डिजिटल भुगतान को बढ़ावा दिए जाने के बाद देश में ऑनलाइन भुगतान में भारी वृद्धि हुई है।

रोचक तथ्य : मास्टर कार्ड के अध्यक्ष व सीईओ भारतीय मूल के अजयपाल सिंह बंगा हैं।

मास्टर कार्ड

मास्टर कार्ड एक अमेरिकी बहुराष्ट्रीय वित्तीय सेवा कंपनी है, इसका मुख्यालय अमेरिका के न्यूयॉर्क में स्थित है। इसकी स्थापना 1966 में की गयी थी। गौरतलब है कि मास्टर कार्ड के अध्यक्ष व सीईओ भारतीय मूल के अजयपाल सिंह बंगा हैं। मास्टर कार्ड के उप्ताद में डेबिट कार्ड का क्रेडिट कार्ड प्रमुख हैं। इसके प्रमुख ब्रांड सिरस, मेस्ट्रो, मोंडेक्स तथा मास्टर पास इत्यादि हैं।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,