आईआईटी मद्रास ने प्रोग्रामिंग और डेटा साइंस में विश्व की पहली ऑनलाइन बीएससी डिग्री लांच की  

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (IIT) मद्रास ने प्रोग्रामिंग और डाटा साइंस में  ऑनलाइन बीएससी डिग्री प्रदान करने का निर्णय लिया है। यह  ऑनलाइन पाठ्यक्रम 30 जून, 2020 को   केंद्रीय मानव संसाधन विकास (एचआरडी) मंत्री रमेश पोखरियाल द्वारा एक वर्चुअल इवेंट  के माध्यम से शुरू किया गया।

ऑनलाइन कोर्स के बारे में

यह  पाठ्यक्रम तीन अलग-अलग चरणों में उपलब्ध होगा। सबसे पहले,  फाउंडेशन प्रोग्राम के सफल समापन के बाद छात्र को एक प्रमाण पत्र प्राप्त होगा। दूसरा, डिप्लोमा प्रोग्राम और तीसरा, डिग्री प्रोग्राम होगा।

इन  पाठ्यक्रमों में शामिल होने के लिए, एक छात्र को क्वालीफायर परीक्षा में उपस्थित होना होगा, जिसके लिए उन्हें एक फॉर्म भरना होगा और 3000 रुपये की क्वालीफायर परीक्षा के लिए शुल्क का भुगतान करना होगा। क्वालिफायर परीक्षा के लिए छात्रों को 4 सप्ताह के ऑनलाइन लेक्चर तक पहुंच प्रदान की जाएगी। यह  4 विषय है – गणित, सांख्यिकी, अंग्रेजी और कम्प्यूटेशनल थिंकिंग । 4 सप्ताह के बाद  छात्रों को क्वालीफायर परीक्षा में उपस्थित होना होगा।  जो छात्र क्वालिफायर परीक्षा में 50 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करते हैं, वे स्वयं को फाउंडेशन प्रोग्राम में नामांकित कर पाएंगे।

 डाटा साइंस का महत्व

डेटा साइंस दुनिया के सबसे तेजी से बढ़ते क्षेत्रों में से एक के रूप में उभरा है, इसका महत्व आगे आने वाले दशक में भी बढ़ता रहेगा क्योंकि डेटा साइंस बेहतर निर्णय लेने में मदद करता है जो सांख्यिकीय संख्या, तथ्यों और रुझानों पर आधारित होते हैं। 2026 तक, डेटा साइंस के क्षेत्र में 11.5 मिलियन नौकरियां पैदा होने की संभावना है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , , ,