इसरो ने भारत के दूसरे चंद्र मिशन ‘चंद्रयान -2’ के लॉन्च को स्थगित किया

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने अप्रैल 2018 से अक्टूबर-नवंबर 2018 तक भारत के दूसरे चंद्र मिशन ‘चंद्रयान -2’ के लॉन्च को स्थगित कर दिया है। चंद्रयान -2 की समीक्षा के लिए राष्ट्रीय स्तर की समिति द्वारा सुझाए गए अतिरिक्त परीक्षण हेतु लॉन्च स्थगित कर दिया गया है ।

चंद्रयान 2

चंद्रयान 2 चंद्रमा के लिए भारत का दूसरा मिशन है और पिछले चंद्रयान -1 मिशन (2008 में लॉन्च) का उन्नत संस्करण है। इसे इसरो द्वारा देश में ही विकसित किया गया है। इसमें ऑर्बिटर, लैंडर और रोवर कॉन्फ़िगरेशन शामिल हैं। इस मिशन में, इसरो चंद्रमा के दक्षिण-ध्रुव पर रोवर लगाने के लिए पहली बार प्रयास करेगा । यह जियोसिंक्रोनस सैटेलाइट लॉन्च वाहन एमके III के बोर्ड से लॉन्च किया जाएगा. छः व्हील रोवर चन्द्रमा की सतह पर जायेगा और साइट पर वैज्ञानिक जानकारी के लिए रासायनिक विश्लेषण हेतु मिट्टी या चट्टान के नमूनों को इकट्ठा करेगा।

चंद्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग चंद्रयान 2 मिशन का सबसे जटिल हिस्सा होगा। केवल अमेरिका, रूस और चीन चन्द्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग करने में सक्षम रहे हैं।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,