इसरो ने सफलतापूर्वक किया विकास इंजन का भूमि परीक्षण

इसरो ने तमिलनाडु के तिरुनेलवेली जिले के महेंद्र्गिरी में विकास इंजन का भूमि परीक्षण सफलतापूर्वक किया। यह परीक्षण 195 सेकंड तक किया गया। यह परीक्षण सभी अपेक्षित मापदंडो पर खरा उतरा।

विकास इंजन

विकास इंजन इसरो का तरल इंधन पर आधारित राकेट इंजन है, इसके विकास की शुरुआत 1970 में हुई थी। विकास इंजन का डिजाईन वाइकिंग राकेट इंजन पर आधारित था। विकास इंजन PSLV के दूसरे चरण, जबकि GSLV के दूसरे चरण के साथ स्ट्रेप ओन चरण में उपयोग किया जाता है। जबकि GSLV Mk-III में इसका उपयोग पहले चरण में किया जाता है। विकास इंजन के नए संस्करण से सभी लांच वेहिकल्स की पेलोड क्षमता में वृद्धि होगी।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , ,