केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भोपाल, मध्य प्रदेश में राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास (एनआईएमएचआर) संस्थान की स्थापना को मंजूरी दी

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने भोपाल, मध्य प्रदेश में राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास (एनआईएमएचआर) संस्थान की स्थापना को मंजूरी दे दी है। इसे दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग के अंतर्गत सोसायटी पंजीकरण अधिनियम, 1860 के तहत एक सोसाइटी के रूप में स्थापित किया जाएगा।

राष्ट्रीय मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास (एनआईएमएचआर) संस्थान के मुख्य उद्देश्य हैं

० मानसिक बीमारी वाले व्यक्तियों को पुनर्वास सेवाएं प्रदान करना।
० मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास के क्षेत्र में क्षमता निर्माण करना।
० मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास में नीति तैयार करना तथा उन्नत अनुसंधान करना।

मानसिक स्वास्थ्य पुनर्वास के क्षेत्र में एनआईएमएचआर देश में अपने तरह का पहला संस्थान होगा।

दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग

दिव्यांगजन सशक्तिकरण विभाग (सामाजिक न्‍याय एवं अधिकारिता मंत्रालय) विकलांग व्‍यक्तियों के सशक्‍तीकरण का कार्य करता है। विकलांग व्‍यक्तियों में, दृष्टिबाधित, श्रवणबाधित, वाकबाधित, अस्थि विकलांग और मानसिक रूप से विकलांग व्‍यक्ति शामिल होते हैं। इनकी जनसंख्‍या वर्ष 2011 की जनगणना के अनुसार 2.68 करोड़ है जो देश की कुल जनसंख्‍या का 2.21 प्रतिशत है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,