केंद्र सरकार ने की टैगोर सांस्कृतिक सद्भावना पुरस्कारों की घोषणा

केंद्र सरकार ने वर्ष 2014, 2015 तथा 2016 के टैगोर सांस्कृतिक सद्भावना पुरस्कार के विजेताओं की घोषणा की। विजेताओं का चुनाव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में जूरी द्वारा किया गया, इस जूरी में भारत के मुख्य न्यायधीष रंजन गोगोई, पूर्व मुख्य चुनाव आयुक्त एन. गोपालास्वामी तथा भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष विजय सहस्रबुद्धे शामिल हैं।

टैगोर सांस्कृतिक सद्भावना पुरस्कार के विजेता

2014 : राजकुमार सिंहजीत सिंह। वे मणिपुर नृत्य के प्रतिष्ठित व्यक्ति हैं, वे एक अध्यापक, परफ़ॉर्मर तथा कोरियोग्राफर हैं।

2015 : छायानाट। यह एक बांग्लादेशी संगठन है, इसकी स्थापना 1961 में की गयी थी। इस संगठन ने बंगाली संस्कृति, संगीत तथा साहित्य में टैगोर के कार्य के प्रचार-प्रसार के लिए उत्कृष्ठ कार्य किया है।

2016 : राम वनजी सुतार : वे एक प्रसिद्ध मूर्तिकार हैं। उन्हें मध्य प्रदेश में गाँधी सागर बांध पर चम्बल स्मारक के निर्माण के लिए जाना जाता है। वे पद्मभूषण तथा पद्म श्री पुरस्कार भी प्राप्त कर चुके हैं।

टैगोर सांस्कृतिक सद्भावना पुरस्कार

भारत सरकार ने वर्ष 2011 में गुरुदेव रबिन्द्रनाथ टैगोर के 150वें जन्मोत्सव पर टैगोर सांस्कृतिक सद्भावना पुरस्कार का गठन किया था। सांस्कृतिक सद्भावना के लिए दिए जाने वाले इस पुरस्कार में 1 करोड़ रुपये की राशी तथा प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जाता है। यह पुरस्कार किसी भी देश के व्यक्ति/संस्था को प्रदान किया जा सकता है। यह पुरस्कार सर्वप्रथम सितार वादक पंडित रवि शंकर प्रसाद को 2012 में दिया गया था, वर्ष 2013 में यह दूसरी बार यह पुरस्कार जुबिन मेहता को दिया गया था।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,