कोहाला हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट

पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर के क्षेत्र में कोहाला पनबिजली परियोजना को लागू करने के लिए चीन और पाकिस्तान के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर किए गए हैं। यह परियोजना चीन पाकिस्तान आर्थिक गलियारे के तहत कार्यान्वित की जा रही है।

मुख्य बिंदु

चीन-पाकिस्तान आर्थिक गलियारे के तहत चीन पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में कोहाला पनबिजली परियोजना स्थापित कर रहा है। इस परियोजना को कार्यान्वित करने के लिए ट्राइपार्टाइट गोर्जेस कॉरपोरेशन, प्राइवेट पावर एंड इन्फ्रास्ट्रक्चर बोर्ड और पाक-अधिकृत कश्मीर के प्राधिकरणों के बीच एक त्रिपक्षीय समझौते पर हस्ताक्षर किए गए।

परियोजना के बारे में

यह परियोजना झेलम नदी पर निर्मित की जायेगी। इसका उद्देश्य पाकिस्तान को 5 बिलियन यूनिट स्वच्छ हाइड्रो इलेक्ट्रिक पावर प्रदान करना है। यह परियोजना स्वच्छ ऊर्जा के लिए जलवायु परिवर्तन पर संयुक्त राष्ट्र फ्रेमवर्क सम्मेलन से कार्बन क्रेडिट अर्जित करेगी।

भारत का रुख

भारत ने पहले गिलगित-बाल्टिस्तान में बांध बनाने की पाकिस्तान की योजना का विरोध किया था। साथ ही, भारत का कहना है कि पाकिस्तान के अवैध कब्जे वाले क्षेत्रों में परियोजनाएं उचित नहीं हैं।

झेलम नदी

झेलम पंजाब की पांच नदियों में से सबसे पश्चिमी नदी है। यह सिंधु की एक सहायक नदी है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , , , , ,