गृह मंत्रालय ने जूम एप्लीकेशन की सुरक्षा पर चिंता व्यक्त की

16 अप्रैल, 2020 को गृह मंत्रालय के तहत संचालित साइबर समन्वय केंद्र (CyCord) ने ज़ूम एप्लीकेशन की सुरक्षा को लेकर चिंता व्यक्त की। जूम का उपयोग करने के लिए गृह मंत्रालय ने दिशानिर्देश जारी किए हैं।

मुख्य बिंदु

गृह मंत्रालय ने इंडियन कंप्यूटर इमरजेंसी रिस्पांस टीम (सर्टिफिकेट-इन) का हवाला देते हुए जूम एप्लीकेशन पर चिंता व्यक्त की है। ज़ूम कॉन्फ्रेंस में अनधिकृत प्रविष्टि को रोकने और अन्य उपयोगकर्ताओं पर दुर्भावनापूर्ण हमले को रोकने के लिए दिशानिर्देश जारी किए गए हैं।

दिशा-निर्देश

गृह मंत्रालय ने जोर दिया है कि सरकारी अधिकारियों को आधिकारिक उद्देश्यों के लिए इस एप्लीकेशन का उपयोग नहीं करना चाहिए। अधिकारियों की मुख्य चिंता यह है कि लॉकडाउन के बाद से इस एप्लीकेशन के यूजर्स की संख्या 200 मिलियन से अधिक हो गयी है।

साइबर समन्वय केंद्र

Cycord को 2018 में लॉन्च किया गया था। इसे साइबर अपराधों जैसे समाधान खोजने, अनुभव साझा करने, शोध निष्कर्ष, साइबर अपराध से निपटने के लिए समाधान खोजने आदि के लिए वन-स्टॉप प्लेटफॉर्म के रूप में लॉन्च किया गया था।

ज़ूम एप्लीकेशन क्या है?

ज़ूम एप्लीकेशन एक वेब-आधारित वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग उपकरण है जो उपयोगकर्ताओं को वीडियो के माध्यम से वार्तालाप की सुविधा प्रदान करता है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , ,