घरेलु स्वास्थ्य व्यय पर NSO रिपोर्ट

राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने हाल ही में घरेलु स्वास्थ्य पर व्यय के सन्दर्भ ने सर्वेक्षण जारी किया। यह सर्वेक्षण जुलाई 2017 तथा जून 2018 के बीच किया गया था। इस सर्वेक्षण में दवाइयों, हॉस्पिटलाईजेशन, जांच-पड़ताल तथा बच्चे के जन्म इत्यादि के दौरान होने वाले व्यय का डाटा एकत्रित किया गया है। यह डाटा 1,13,823 घरों से एकत्रित किया गया है।

सर्वेक्षण के मुख्य बिंदु

  • 14% ग्रामीण जनसँख्या तथा 19% शहरी जनसँख्या के पास स्वास्थ्य व्यय कवर था।
  • केवल 1% शहरी जनसँख्या को सरकारी स्वास्थ्य सुरक्षा योजना से स्वास्थ्य बीमा प्राप्त हुआ।
  • ग्रामीण भारत में औसतन प्रति हॉस्पिटलाईजेशन केस में 16,676 रुपये का व्यय आता है। जबकि शहरों में औसतन प्रति हॉस्पिटलाईजेशन केस 26,475 रुपये का व्यय आता है।
  • सर्वेक्षण के अनुसार ग्रामीण क्षेत्रों में 90% तथा शहरी क्षेत्रों में 96% बच्चों का जन्म संस्थागत रूप (अस्पताल इत्यादि में) हुआ।
  • ग्रामीण क्षेत्रों में 97% बच्चों का टीकाकरण हुआ।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,