जस्टिस संजय करोल बने पटना उच्च न्यायालय के नए मुख्य न्यायधीश

जस्टिस संजय करोल ने हाल ही में पटना उच्च न्यायालय के नए 43वें मुख्य न्यायधीश के रूप में शपथ ले ली है। उन्हें बिहार के राज्यपाल फागु चौहान ने पटना के राजभवन में पद व गोपनीयता की शपथ दिलाई। उन्होंने जस्टिस अमरेश्वर प्रताप साही का स्थान लिया है। इस शपथ ग्रहण समारोह में बिहार के मुख्यमंत्री नितीश कुमार, उप-मुख्यमंत्री सुशील  कुमार मोदी, राज्य के मंत्री, उच्च न्यायालय के न्यायधीश तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी शामिल हुए।

जस्टिस संजय करोल

जस्टिस संजय करोल का जन्म हिमाचल प्रदेश में हुआ था। उन्हें 8 मार्च, 2007 को उच्च न्यायालय का न्यायधीश नियुक्त किया गया था। उन्होंने पांच वर्ष तक हिमाचल प्रदेश में एडवोकेट जनरल के रूप में भी कार्य किया। 9 नवम्बर, 2018 को उन्हें त्रिपुरा उच्च न्यायलय का मुख्य न्यायधीश नियुक्त किया गया।

भारत में उच्च न्यायालय

भारतीय संविधान के अनुच्छेद 214 के अनुसार प्रत्येक राज्य के लिए एक उच्च न्यायालय की व्यवस्था होनी चाहिए। उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायधीश की नियुक्ति संविधान के अनुच्छेद 217 के तहत राष्ट्रपति द्वारा भारत के मुख्य न्यायधीश तथा सम्बंधित राज्य के राज्यपाल के साथ परामर्श के बाद की जाती है। उच्च न्यायालय के न्यायधीशों की नियुक्ति राष्ट्रपति द्वारा भारत के मुख्य न्यायधीश तथा सम्बंधित उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायधीश के साथ परामर्श के बाद की जाती है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , , , ,