दूरसंचार विभाग ने लॉन्च की 5G हैकाथॉन

दूरसंचार विभाग ने 5G हैकाथन लॉन्च कर दी है। इस  ‘5G हैकाथॉन’ को दूरसंचार विभाग (DoT) ने सरकार, शिक्षाविदों और उद्योग हितधारकों के साथ मिलकर लॉन्च किया है।

इस हैकाथॉन में अत्याधुनिक विचारों को शॉर्टलिस्ट किया जायेगा जिन्हें व्यावहारिक 5जी उत्पादों और समाधानों में परिवर्तित किया जा सकता है। इस कार्यक्रम का समापन इस वर्ष 16 अक्टूबर को इंडिया मोबाइल कांग्रेस में एक भव्य समारोह में होगा। विभिन्न चरणों के विजेता 2.5 करोड़ रुपये के कुल पुरस्कार पूल को साझा करेंगे।

5G

5G वायरलेस संचार टेक्नोलॉजी थर्ड जनरेशन पार्टनरशिप प्रोजेक्ट (3GPP) पर आधारित है। यह 4G LTE के बाद मोबाइल नेटवर्क टेक्नोलॉजी का अगला चरण है। 5G टेक्नोलॉजी में डाउनलोड व अपलोड स्पीड मौजूदा 4G नेटवर्क से 100 गुना तेज़ होगी। इससे इन्टरनेट ऑफ़ थिंग्स (IoT), ऑगमेंटेड रियलिटी (AR) और वर्चुअल रियलिटी (VR) को बढ़ावा मिलेगा।

दिसम्बर, 2017 में 3GPP ने 5G रेडियो मानक का पहला सेट पूरा किया था। 5G की तेज़ गति के कारण क्लाउड सिस्टम से संगीत आसानी से स्ट्रीम किया जा सकेगा, इससे बिना चालक वाले वाहन को आसानी से नेविगेशन डाटा उपलब्ध करवाया जा सकेगा। आर्टिफीशियल इंटेलिजेंस और इन्टरनेट ऑफ़ थिंग्स के विकास में 5G की भूमिका काफी महत्वपूर्ण होगी।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , ,