पाकिस्तान-रूस समझौता : पाकिस्तानी सैनिकों को रूसी सैन्य प्रशिक्षण संस्थानों में दिया जायेगा प्रशिक्षण

हाल ही में रूस और पाकिस्तान के बीच एक समझौते पर हस्ताक्षर किये गये, इस समझौते के तहत पाकिस्तानी सैनकों को रूस के सैन्य प्रशिक्षण संस्थानों में प्रशिक्षण दिया जायेगा। रूस-पाकिस्तान संयुक्त सैन्य सलाहकार समिति (JMCC)  की पहली बैठक के दौरान इस समझौते पर हस्ताक्षर किये गये। यह बैठक पाकिस्तान के रावलपिंडी में आयोजित की गयी थी। यह ऐसा पहला अवसर है जब पाकिस्तानी सैनिकों को रूसी प्रशिक्षण केन्द्रों में प्रशिक्षित किया जायेगा। इस समझौते को पाकिस्तान और रूस के बीच मज़बूत होते रक्षा संबंधों के चिन्ह के रूप में देखा जा रहा है।

रूस-पाकिस्तान संयुक्त सैन्य सलाहकार समिति (JMCC)

रूस-पाकिस्तान संयुक्त सैन्य सलाहकार समिति की पहली बैठक में दोनों पक्षों में रक्षा संबंधों को मज़बूत करने तथा विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग को बढ़ावा देना पर चर्चा की। इसके अलावा बैठक में द्विपक्षीय मुद्दों, प्रमुख अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों तथा पश्चिम एशिया में सुरक्षा स्थिति पर भी चर्चा की गयी। इस दौरान दोनों पक्षों के आतंकवाद का सामने करने के लिए संयुक्त प्रयास की आवश्यकता पर भी बल दिया।

पृष्ठभूमि

अमेरिका के साथ पाकिस्तान के सम्बन्ध कुछ ख़राब होने के बाद, पाकिस्तान रूस के साथ संबंधों को आगे बढ़ा रहा है। पाकिस्तान और रूस के बीच वर्ष 2014 में रक्षा सहयोग के लिए समझौता हुआ था। इससे दोनों देशों के संबंधों को भी मजबूती मिली। 2016 में दोनों देशों के बीच सैन्य अभ्यास ‘द्रुज्बा’ 2016 में आयोजित किया गया

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , ,