भारत और इंडोनेशिया के बीच शुरू हुआ “समुद्र शक्ति” युद्ध अभ्यास

भारत और इंडोनेशिया की नौसेनाओं के बीच 12 नवम्बर को इंडोनेशिया के सुराबाया में “समुद्र शक्ति” नौसैनिक अभ्यास शुरू हुआ। इस युद्ध अभ्यास का समापन 18 नवम्बर, 2018 को होगा। इस युद्ध अभ्यास का उद्देश्य समुद्री सहयोग को बढ़ावा देना तथा दोनों देशों के बीच इंटरओपेराबिलिटी में वृद्धि करना है। यह दोनों देशों की नौसेनाओं के बीच पहला द्विपक्षीय नौसैनिक युद्ध अभ्यास है।

समुद्र शक्ति 2018

इस युद्ध अभ्यास के बंदरगाह चरण का आयोजन 12 से 15 नवम्बर के दौरान किया जायेगा। इस चरण में क्रॉस डेक विजिट, खेल गतिविधियाँ तथा विचार-विमर्श इत्यादि गतिविधियों का आयोजन किया जायेगा। बंदरगाह चरण के बाद इस युद्ध अभ्यास के समुद्री चरण का आयोजन किया जायेगा। समुद्री चरण का आयोजन 16 से 18 नवम्बर के दौरान किया जायेगा। इस चरण में हेलीकाप्टर ऑपरेशन, सतही युद्ध अभ्यास, पनडुब्बी रोधी अभ्यास तथा समुद्री लुटेरों के विरुद्ध युद्ध अभ्यास किया जायेगा।

मई 2018 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडोनेशिया की यात्रा पर गए थे और उस यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच रक्षा तथा समुद्री सहयोग पर सहमती बनी थी। तब दोनों देशों ने व्यापक सामरिक साझेदार पर बल दिया था। भारत ने इंडोनेशिया के सबांग बंदरगाह को विकसित करने के लिए सहमती प्रकट की थी।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,