भारत और इजरायल ने 880 करोड़ रुपये के रक्षा सौदे पर हस्ताक्षर किए

19 मार्च, 2020 को भारतीय सशस्त्र बलों ने इज़राइल हथियार उद्योग के साथ एक समझौते पर हस्ताक्षर किए। इस समझौते के अनुसार भारत 880 करोड़ रुपये में 16,479 LMG (लाइट मशीन गन्स) की खरीद करेगा।

लाइट मशीनगन (LMG)

लाइट मशीन गन्स का उपयोग दस्ते के स्वचालित हथियारों के रूप में किया जाता है। LMG का उपयोग सबसे पहले द्वितीय विश्व युद्ध में किया गया था। इजरायल से खरीदे जाने वाली इन  लाइट मशीन गन्स का नाम ‘नेगेव’ है। नेगेव गैस संचालित एलएमजी है। यह हथियार महत्वपूर्ण है क्योंकि यह सीमावर्ती सैनिकों के आत्मविश्वास को बढ़ाएगा। यह उन्हें आवश्यक युद्ध शक्ति प्रदान करेगा।

भारत-इज़राइल रक्षा संबंध

भारत के लिए इजरायल के रक्षा उद्योग हथियारों का एक उपयोगी स्रोत है। 2016 में, भारत ने इजरायल के साथ 600 मिलियन डालर के समझौते पर हस्ताक्षर किए थे, इसके साथ ही इजराइल भारत का दूसरा सबसे बड़ा रक्षा साझेदार बन गया था। भारतीय वायु सेना में उपयोग किए जाने वाले हेरॉन ड्रोन्स को भारत ने इज़राइल से खरीदा था। 2017 में दोनों देशों ने 2 बिलियन डालर के एक और सौदे पर हस्ताक्षर किए थे।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , , ,