भारत ने संयुक्त राष्ट्र राहत और निर्माण एजेंसी को 2 मिलियन डालर की सहायता प्रदान की

19 मई, 2020 को भारत ने फिलिस्तीनी शरणार्थियों के कल्याण में मदद करने के लिए UNRWA (संयुक्त राष्ट्र राहत और निर्माण एजेंसी) को 2 मिलियन डालर की राहत सहायता प्रदान की। इस सहायता राशि का उपयोग शरणार्थियों के लिए शिक्षा और स्वास्थ्य सहित मुख्य कार्यक्रमों में किया जायेगा।

मुख्य बिंदु

2019 में भारत ने UNRWA में अपना वार्षिक योगदान 2016 में 1.25 मिलियन डालर से बढ़ाकर 2019 में 5 मिलियन अमरीकी डालर कर दिया था। 2020 में भारत ने 5 मिलियन अमरीकी डालर का अतिरिक्त योगदान दिया। इसने भारतीय को UNRWA के सलाहकार आयोग में सदस्य बना दिया।

महत्व

3.1 मिलियन से अधिक फिलिस्तीनी शरणार्थी हैं। वे पूरी तरह से UNRWA द्वारा प्रदान की जाने वाली स्वास्थ्य सेवाओं में निर्भर हैं। UNRWA  हर साल 526,000 छात्रों को शिक्षित करने का कार्य करता है।

भारत-फिलिस्तीन

भारत COVID-19 से लड़ने में मदद करने के लिए फिलिस्तीनियों के लिए चिकित्सा आपूर्ति भी तैयार कर रहा है। भारत ने फिलिस्तीन के साथ अलग से 17 समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं। इन समझौतों के तहत, भारत स्वास्थ्य, कृषि, युवा मामलों, सूचना प्रौद्योगिकी, कांसुलर मामलों, मीडिया और महिला सशक्तिकरण के क्षेत्र में फिलिस्तीन की मदद करता है।

भारत इन परियोजनाओं के माध्यम से 72 मिलियन अमरीकी डालर प्रदान करेगा। इससे गाजा में सूचना और संचार प्रौद्योगिकी के लिए स्कूलों और उत्कृष्टता केंद्र स्थापित करने के प्रयासों में मदद मिलेगी।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , ,