रक्सौल-काठमांडू रेलवे लाइन के लिए भारत और नेपाल ने किये MoU पर हस्ताक्षर

भारत और नेपाल ने बिहार के रक्सौल शहर और नेपाल की राजधानी काठमांडू को रेलवे लाइन से जोड़ने के लिए एक MoU पर हस्ताक्षर किये। भारतीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा नेपाली प्रधानमंत्री के. पी. शर्मा ओली से द्विपक्षीय मुद्दों पर विचार-विमर्श करने के बाद इस MoU पर हस्ताक्षर किये गये।

रक्सौल-काठमांडू रेल लाइन

इस रेलवे लाइन से लोगों को आवाजाही में आसानी होगी और बड़ी मात्रा में वस्तुओं के परिवहन के लिए भी यह रेल लाइन उपयोगी सिद्ध होगी। इस रेलवे लाइन क्षेत्र में आर्थिक गतिविधियों व विकास को बढ़ावा मिलेगा। इस नई रेलवे लाइन के लिए भारत का कोंकण रेलवे कारपोरेशन नेपाल सरकार के परामर्श से प्रारंभिक इंजीनियरिंग व ट्रैफिक सर्वेक्षण करेगा। इसके बाद प्रोजेक्ट के लिए फंडिंग व क्रियान्वयन योजना इत्यादि का प्रबंध किया जायेगा। इसके अलावा इन दो देशों के बीच तीन और रेलवे परियोजनाओं पर भी विचार किया जा रहा है। यह परियोजनाएं नौतनवा-भैरहवा, न्यू जलपाईगुड़ी-काकरभित्ता और नेपालगंज रोड-नेपालगंज हैं।

पृष्ठभूमि

लगभग दो वर्ष पूर्व चीन और नेपाल के बीच तिब्बत के माध्यम से नेपाल तक रेलवे लाइन बिछाने पर सहमती प्रकट की गयी थी। इसके अलावा चीन ने नेपाल के साथ कनेक्टिविटी बढ़ाने के लिए तीन हाईवे का निर्माण करने का निर्णय किया है, इनका निर्माण 2020 तक कर लिया जायेगा। वर्ष 2015-16 में नेपाल में आर्थिक नाकाबंदी के कारण, भारत-नेपाल संबंधों में अविश्वास उत्पन्न हो गया था। नेपाल, भारत के सामरिक महत्व के लिए अति महत्वपूर्ण है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , ,