राजस्थान के लिए नाबार्ड ने 14,690 करोड़ रुपये का क्रेडिट समर्थन बढ़ाया

राजस्थान के लिए नाबार्ड ने 2017-18 में 14,690 करोड़ रुपये का कुल क्रेडिट समर्थन बढ़ाया है। राजस्थान वर्तमान में नाबार्ड के ग्रामीण इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट फंड के तहत सबसे बड़े लाभार्थियों में से एक राज्य है, जिसके अंतर्गत 1,851.2 9 करोड़ रुपये का रियायती ऋण वर्ष 2017-18 के दौरान नाबार्ड ने राज्य सरकार को वितरित किया है।

राष्‍ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक (नाबार्ड)

राष्‍ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक एक एेसा बैंक है जो ग्रामीणों को उनके विकास एवं अ‍‍ार्थिक रूप से जीवन स्तर सुधारने के लिए ऋण उपलब्‍ध कराता है। यह ग्रामीण क्षेत्रों में ऋण उपलब्ध कराने के लिए प्रमुख एजेंसियों में से एक है। राष्ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक अधिनियम 1981 को लागू करने के लिए संसद के एक अधिनियम के द्वारा 12 जुलाई 1982, को शिवरामन समिति की सिफारिशों के आधार पर इसकी स्थापना की गयी। राष्‍ट्रीय कृषि और ग्रामीण विकास बैंक ने कृषि ऋण विभाग (एसीडी (ACD) एवं भारतीय रिजर्व बैंक के ग्रामीण योजना और ऋण प्रकोष्ठ (रुरल प्लानिंग एंड क्रेडिट सेल (आरपीसीसी (RPCC)) तथा कृषि पुनर्वित्त और विकास निगम (एआरडीसी (ARCD)) को प्रतिस्थापित किया है।

Advertisement

Month:

Categories: ,

Tags: , , , ,