वित्त मंत्री ने इंस्टेंट आधार बेस्ड ई-केवाईसी लांच की

27 मई, 2020 को केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने इंस्टेंट आधार बेस्ड ई-केवाईसी लांच की।

मुख्य बिंदु

यह सुविधा उन पैन आवेदकों के लिए उपलब्ध होगी जिनके पास वैध आधार संख्या है। उनके पास आधार के साथ पंजीकृत एक मोबाइल नंबर भी होना चाहिए। पैन आवंटित करने की प्रक्रिया कागज रहित है और मुफ्त भी है।

केंद्रीय बजट

इंस्टेंट आधार बेस्ड ई-केवाईसी को वित्त मंत्री ने केंद्रीय बजट 2020-21 में पेश किया था। उन्होंने घोषणा की कि आवेदन फॉर्म भरने की आवश्यकता के बिना तुरंत एक प्रणाली प्रदान की जाएगी जो पैन प्रदान करेगी।

पैन क्या है?

पैन स्थायी खाता संख्या (PAN – Permanent Account Number) है। यह एक 10-अंकीय अल्फा न्यूमेरिक संख्या है जो आयकर विभाग द्वारा जारी की जाती है। यह आयकर विभाग को व्यक्ति के लेनदेन को विभाग के साथ जोड़ने में सक्षम बनाता है। इस लेनदेन में टीडीएस, टीसीएस, कर भुगतान, आय रिटर्न, निर्दिष्ट लेनदेन आदि शामिल हैं।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , ,