विश्व स्वास्थ्य संगठन COVID-19 की हैंडलिंग में स्वतंत्र जांच करवाएगा

19 मई, 2020 को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने घोषणा की कि वह COVID-19 महामारी से निपटने में स्वतंत्र समीक्षा शुरू करेगा। इसके लिए विश्व स्वास्थ्य संगठन “Resolution on COVID-19 response” लॉन्च करेगा।

मुख्य बिंदु

इस समीक्षा का मुख्य उद्देश्य COVID -19 की उत्पति से सम्बंधित अंतर्राष्ट्रीय दोषारोपण को समाप्त करना है। वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से आयोजित 73 वें विश्व स्वास्थ्य सभा इस प्रस्ताव पर चर्चा की गयी। इसमें भारत का प्रतिनिधित्व केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन ने किया।

प्रस्ताव

लगभग 116 देशों ने स्वतंत्र समीक्षा के प्रस्ताव का समर्थन किया। भारत ने भी इस संकल्प का समर्थन किया। इस संकल्प का विचार ऑस्ट्रेलिया द्वारा शुरू किया गया था। हालाँकि, प्रस्ताव को यूरोपीय संघ द्वारा ड्राफ्ट किया गया था। चीन ने इस प्रस्ताव का विरोध किया था।

अब तक उपलब्ध जानकारी के अनुसार, COVID-19 एक जूनोटिक बीमारी है जो जानवरों से मनुष्यों में फैलती है। इसका प्रकोप चीन के वुहान से शुरू हुआ और तेजी से पूरी दुनिया में फैल गया है। विभिन्न देशों ने संकट से निपटने के लिए अलग-अलग तरीके अपनाए हैं। यह भी जांच का एक हिस्सा होना है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , , , , ,