पर्यावरण एवं पारिस्थिकी करेंट अफेयर्स

इस श्रेणी में पर्यावरण एवं पारिस्थिकी करेंट अफेयर्स में प्रकाशित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

16 सितम्बर : अंतर्राष्ट्रीय ओजोन परत संरक्षण दिवस

अंतर्राष्ट्रीय ओजोन संरक्षण दिवस (विश्व ओजोन दिवस) को प्रत्येक वर्ष 16 सितम्बर को मनाया जाता है।  इस दिवस की घोषणा संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा 19 दिसम्बर, 1994 में की गयी थी। इसी दिन 1987 में मोंट्रियल प्रोटोकॉल पर हस्ताक्षर किये गये थे। इसका उद्देश्य ओजोन परत के संरक्षण के बारे में जागरूकता फैलाना तथा इसकी संरक्षणRead More...

सतत जलवायु कार्रवाई के लिए अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन में पांच सार्वजनिक उपक्रमशामिल होंगे

8 सितंबर, 2020 को पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने घोषणा की कि पांच सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम सतत जलवायु कार्रवाई के लिए अंतर्राष्ट्रीय सौर गठबंधन (आईएसए) गठबंधन में शामिल होंगे। मुख्य बिंदु आईएसए में शामिल होने वाले पांच सार्वजनिक उपक्रम इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन लिमिटेड, ऑयल एंड नेचुरलRead More...

काजीरंगा पार्क का विस्तार 3,053 हेक्टेयर तक किया जाएगा

असम सरकार ने हाल ही में काजीरंगा राष्ट्रीय उद्यान में 3,053 हेक्टेयर (884 वर्ग किमी) क्षेत्र को जोड़ा। काजीरंगा एशियाई एक सींग वाले गैंडों का घर है। यह विस्तार इस पार्क को कार्बी आंग्लोंग पहाड़ियों और नमेरी नेशनल पार्क के साथ जोड़ेगा। मुख्य बिंदु इन क्षेत्रों को 35 वर्षों के बाद जोड़ा जा रहा है। काजीरंगा राष्ट्रीयRead More...

वर्तमान में 13 नदियों के कायाकल्प पर काम किया जा रहा है : भारत सरकार

3 सितंबर, 2020 को केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने घोषणा की कि केंद्र 13 नदियों के कायाकल्प का काम कर रहा है। मंत्री ने "कावेरी कॉलिंग" आंदोलन के जश्न के अवसर पर यह घोषणा की। मुख्य बिंदु कायाकल्प के अंतर्गत आने वाली 13 नदियाँ ब्यास, झेलम, चेनाब, रावी, सतलज, यमुना, लूनी, नर्मदा, गोदावरी, कावेरी, कृष्णा, महानदी और ब्रह्मपुत्रRead More...

जम्मू और कश्मीर में जैव विविधता परिषद की स्थापना की गयी

जम्मू-कश्मीर सरकार ने जम्मू-कश्मीर में जैव विविधता परिषद की स्थापना का आदेश जारी किया है। इस परिषद की अध्यक्षता मुख्य वन संरक्षक द्वारा की जाएगी। मुख्य बिंदु इस परिषद में 10 सदस्यों को शामिल किया जाएगा। इनमें से पांच गैर-आधिकारिक सदस्य होंगे। यह परिषद केंद्र शासित प्रदेश में जैविक विविधता के संरक्षण की देखभालRead More...