FDI Confidence Index 2018: तीन रैंक नीचे फिसला भारत

FDI Confidence Index 2018 में भारत तीन रैंक नीचे फिसल गया। कंसल्टेंसी फर्म AT Kearney के अनुसार प्रत्यक्ष विदेश निवेश में विश्वास में भारत 11वें स्थान पर है। 2015 के बाद ऐसा पहली बार हुआ है कि भारत शीर्ष 10 देशों की सूची से बाहर है।

मुख्य बिंदु

भारत के अलावा चीन और सिंगापुर की रैंकिंग में भी गिरावट आई है, इस सूची में चीन पांचवे जबकि सिंगापुर 12वीं स्थान पर है। इस सूची में ऑस्ट्रेलिया को आठवां स्थान जबकि न्यूजीलैंड को 16वां संस्थान प्राप्त हुआ। 20 17 में भारत इस सूची में 8वीं स्थान पर था, जबकि 2016 में नौवें स्थान पर काबिज़ था।

प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में निवेशकों द्वारा कम रुचि के प्रमुख कारण सामान्यतः सरकार की आर्थिक नीतियां होती है। भारत में विमुद्रीकरण और GST इसके प्रमुख कारण रहे। हालांकि दीर्घकाल में भारत में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश में अधिक परिवर्तन नहीं आने की सम्भावना है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , ,