IND-INDO CORPAT 2019

भारत और इंडोनेशिया के बीच समन्वयित गश्त का आयोजन भारत में किया जा रहा है। इसका आयोजन भारत में पोर्ट ब्लेयर (अंडमान व निकोबार द्वीप समूह) में किया जा रहा है, इसका आयोजन 19 मार्च से 4 अप्रैल तक किया जायेगा। यह इस गश्त अभ्यास का 33वां संस्करण है।

IND-INDO CORPAT 2019

  • इस गश्त में इंडोनेशिया की ओर से KRI सुल्तान थाहा स्येफुद्दीन तथा मेरीटाइम पट्रोल एयरक्राफ्ट CN-235 हिस्सा ले रहे हैं।
  • इस गश्त अभियान में आशुतोष रिधोकर, नेवल कॉम्पोनेन्ट कमांडर, अंडमान व निकोबार कमांड भारत का नेतृत्व कर रहे हैं।
  • इस अभ्यास के दौरान दोनों देशों के पोत व एयरक्राफ्ट 236 नॉटिकल मील की अंतर्राष्ट्रीय समुद्री सीमा की गश्त करेंगे।
  • यह गश्त तीन चरणों में की जायेगी। इस अभ्यास के समापन समारोह 1 अप्रैल से इन्दोनेसिअक के बेलेवन में शुरू होगा।

पृष्ठभूमि

दोनों देशों के बीच सामरिक साझेदारी के तहत भारतीय तथा इन्डोनेशियाई नौसेनाएं 2002 से वर्ष में दो बार समन्वयित गश्त का अभ्यास करती हैं। इस गश्ती अभ्यास का आयोजन अंतर्राष्ट्रीय समुद्री सीमा के निकट किया जाता है, इसका उद्देश्य हिंद महासागर क्षेत्र को वाणिज्यिक शिपिंग तथा अंतर्राष्ट्रीय व्यापार के लिए सुरक्षित बनाना है। इससे दोनों नौसेनाओं के बीच आपसी समझ भी बेहतर होती है। यह गश्ती अभ्यास केंद्र सरकार के सागर (सिक्यूरिटी एंड ग्रोथ फॉर आल इन द रीजन) तथा एक्ट ईस्ट पालिसी का हिस्सा है। इससे इंडोनेशिया के साथ भारतीय नौसेना तथा इन्डोनेशियाई नौसेना के बीच संबंधों में मजबूती आएगी। इस गश्त का उद्देश्य मित्र देशों के साथ भारत की शांतिप्रिय उपस्थिति तथा एकजुटता को व्यक्त करना है।

Advertisement

Month:

Categories:

Tags: , , , ,