करेंट अफेयर्स - जुलाई, 2018 Page-18

इस श्रेणी में करेंट अफेयर्स - जुलाई, 2018 में प्रकाशित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

नासा ने सैटेलाइट डाटा के वाणिज्यिक उपयोग के लिए लॉन्च की रिमोट सेंसिंग टूल किट

नासा ने हाल ही में सैटेलाइट डाटा के वाणिज्यिक उपयोग के लिए रिमोट सेंसिंग टूल किट लांच की। यह टूल किट नासा के ‘तकनीक हस्तांतरण’ प्रोग्राम के तहत लॉन्च की गयी है, इससे वैज्ञानिक संगठनों, सरकारी एजेंसियों और गैर-लाभकारी संगठनों को लाभ होगा। रिमोट सेंसिंग टूल किट एक ऑनलाइन टूलकिट है, इसकी सहायता से यूजर अनुसन्धान,Read More...

पॉवर ग्रिड ने उत्तर प्रदेश उर्जा निगम से किये MoU पर हस्ताक्षर

पॉवरग्रिड कारपोरेशन ऑफ़ इंडिया ने हाल ही में उत्तर प्रदेश उर्जा निगम से हाल ही में MoU पर हस्ताक्षर किये। यह MoU उर्जा दक्षता और कृषि आवश्यकता के प्रबंधन के लिए किया गया। इसके अतिरिक्त उत्तर प्रदेश में पूर्वी और दक्षिणी डिस्कॉम में कृषि पंप सेट को बदलने पर विचार विमर्श किया गया। पॉवरग्रिड इन परियोजनाओं में 2,200Read More...

महाराष्ट्र सरकार ने की पिछड़े हुए विदर्भ और उत्तरी मराठवाडा के लिए 21,222 करोड़ रुपये के विशेष पैकेज की घोषणा

महाराष्ट्र सरकार ने विदर्भ और मराठवाड़ा क्षेत्रों के लिए 21,222 करोड़ रुपये के विशेष पैकेज की घोषणा की। इस पैकेज के उचित उपयोग की निगरानी के लिए नागपुर में विशेष केंद्र स्थापित किया जाएग। इस पैकेज के मुख्य उद्देश्य उद्योगों का विकास, सिंचाई सुविधाओं, कृषि और पर्यटन क्षेत्र को बढ़ावा देना है। मुख्य बिंदु इस पैकेजRead More...

नाबार्ड ने लखनऊ ने लॉन्च किया जलवायु परिवर्तन केंद्र

नाबार्ड ने लखनऊ में जलवायु परिवर्तन केंद्र लॉन्च किया, ये दक्षिण पूर्व एशिया में इस प्रकार का पहला केंद्र है। इसका उद्देश्य सरकार, निजी क्षेत्र, वित्तीय संस्थाओं इत्यादि द्वारा जलवायु परिवर्तन के सम्बन्ध में लिए लिए जाने वाले कार्यों में तीव्रता लाना है। यह केंद्र इन सभी स्टेकहोल्डर्स को जलवायु परिवर्तनRead More...

मेघालयन काल – मेघालय चट्टान पर पृथ्वी के नवीनतम काल खंड का नाम

हाल ही में वैज्ञानिकों ने तीन नए भौगोलिक कालखण्डों मेघालयन काल, मध्य होलोसीन नार्थग्रिप्पियन काल और आरंभिक होलोसीन ग्रीनलैंडियन के नाम को मंज़ूरी दी। इन तीन नए होलोसीन कालखण्डों का पता समुद्र तल, झील के तल तथा स्टेलेकटाइट और स्टेलेगमाईट में जमा हुए अवसादों से चलता है। मेघालयन काल इस कालखंड का नाम मेघालयRead More...