आर्सेनिक

इस श्रेणी में आर्सेनिक से संबन्धित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

तेजपुर विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने पानी से आर्सेनिक को हटाने के लिए कम लागत वाले फ़िल्टर का विकास किया

असम के तेजपुर विश्वविद्यालय के अनुसंधानकर्ताओं ने एक कम लागत वाले सरल फ़िल्टर का विकास किया है, जिसके द्वारा पानी से आर्सेनिक को अलग किया जा सकता है। इस फ़िल्टर सिस्टम का नाम “Arsiron Nilogon” रखा गया है। मुख्य बिंदु इस फ़िल्टर से आर्सेनिक तथा आयरन से दूषित जल से होने वाली स्वास्थ्य समस्याओं से निजात मिलेगी। गौरतलब हैRead More...

पश्चिम बंगाल में स्वच्छ व सुरक्षित पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए एशियाई विकास बैंक प्रदान करेगा 245 मिलियन डॉलर का ऋण

एशियाई विकास बैंक (ADB) ने पश्चिम बंगाल में स्वच्छ व सुरक्षित पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए 245 मिलियन डॉलर के ऋण को मंज़ूरी प्रदान की। इस ऋण का उपयोग पश्चिम बंगाल में लगभग 30 लाख लोगों को स्वच्छ पेयजल उपलब्ध करवाने के लिए किया जायेगा। पश्चिम बंगाल के कई जिलों में जल आर्सेनिक, फ्लोराइड और लवणता के कारण पीने योग्य नहींRead More...

पश्चिम बंगाल के धान में बढ़ रहा है आर्सेनिक प्रदूषण : अध्ययन

हाल ही में किये गए एक अध्ययन के अनुसार बंगाल के धान में आर्सेनिक प्रदूषण का स्तर बढ़ रहा है। आर्सेनिक जमाव धान के प्रकार और फसल चक्र की स्टेज पर निर्भर करता है। मुख्य बिंदु यह अध्ययन उपभोग किये जाने वाले दो प्रमुख प्रकार – मिनीकिट और जया पर किया गया। इस अध्ययन में यह पाया गया कि ‘जया’ आर्सेनिक के प्रति अधिकRead More...

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च: पानी से आर्सेनिक का पता लगाने तथा निकालने हेतु नया उपकरण विकसित किया गया

इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ साइंस एजुकेशन एंड रिसर्च (आईआईएसईआर) ने निजी कंपनी के सहयोग से एक नया उपकरण आर्सेनिक सेंसर और रिमूवल मीडिया विकसित किया है जो पानी से आर्सेनिक का पता लगाने और निकालने में सहायता करता है। ताकि घरेलू कार्यो में जल का सही उपयोग हो सके। आर्सेनिक सेंसर और रिमूवल मीडिया इस डिवाइस का उपयोगRead More...

भारत-यूनाइटेड किंगडम (यूके) की संयुक्त टीम ने न्यूटन-भाभा फंड जीता

भारत-यूनाइटेड किंगडम (यूके) की संयुक्त टीम ने गंगा नदी बेसिन में भूजल आर्सेनिक अनुसंधान परियोजना के लिए न्यूटन-भाभा फंड जीता है। इस परियोजना को प्राकृतिक पर्यावरण अनुसंधान परिषद (एनईआरसी), यूके के सहयोग से विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग (डीएसटी) द्वारा लाया गया था ताकि व्यापक रूप से आर्सेनिक प्रभावित गंगाRead More...