कोरोनावायरस

इस श्रेणी में कोरोनावायरस से संबन्धित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

विश्व बैंक: द्विवार्षिक गरीबी और साझा समृद्धि रिपोर्ट

7 अक्टूबर, 2020 को विश्व बैंक ने द्विवार्षिक गरीबी और साझा समृद्धि रिपोर्ट जारी की। इस रिपोर्ट के अनुसार, विभिन्न देशों में कोविड-19 महामारी के कारण लगभग 150 मिलियन लोगों के अत्याधिक गरीबी में प्रवेश करने की संभावना है। रिपोर्ट के मुख्य बिंदु इस रिपोर्ट में कहा गया है कि कोविड-19 महामारी अतिरिक्त 88 मिलियन से 115 मिलियनRead More...

ऑक्सफोर्ड के नेतृत्व में बनाये जा रहे COVID-19 वैक्सीन के परीक्षण पर रोक लगायी गयी

ऑक्सफोर्ड जो कोरोनावायरस वैक्सीन के उत्पादन के सबसे बड़े दावेदारों में से एक है, एक गंभीर समस्या में फंस गया है। सुरक्षा कारणों से ऑक्सफ़ोर्ड के वैक्सीन के परीक्षण पर रोक लगायी गयी है। पृष्ठभूमि ऑक्सफोर्ड दुनिया का अग्रणी COVID-19 वैक्सीन उम्मीदवार रहा है, जब से उसने पहली बार कोरोना वायरस के लिए वैक्सीन खोजनेRead More...

COVID-19 से लड़ने के लिए उत्तर प्रदेश में जिला-स्तरीय पैनलों की स्थापना की जाएगी

उत्तर प्रदेश सरकार ने COVID-19 महामारी से अधिक प्रभावी ढंग से लड़ने के लिए एक कार्य योजना तैयार करने के लिए जिला मजिस्ट्रेट, मुख्य चिकित्सा अधिकारियों और मुख्य विकास अधिकारियों से मिलकर जिला-स्तरीय पैनल गठित करने का निर्णय लिया है। मुख्य बिंदु सरकार ने टेलीमेडिसिन सुविधा को मजबूत करने और इसके उचित प्रचार का भीRead More...

पुणे में COVID 19 के लिए मेडिकल बेड आइसोलेशन के लिए ‘आश्रय’ सिस्टम लॉन्च किया गया

भारत में COVID 19 के बढ़ते मामलों का मुकाबला करने के लिए, पुणे में एक विश्वविद्यालय ने देश में घातक वायरस के प्रसार को रोकने के लिए 'आश्रय' नाम से एक चिकित्सा बिस्तर अलगाव प्रणाली विकसित की है। डिफेंस इंस्टीट्यूट ऑफ एडवांस टेक्नोलॉजी ने इस प्रणाली को कम लागत वाली, पुन: प्रयोज्य समाधान के रूप में विकसित किया है, जिससेRead More...

IIT खड़गपुर ने एक घंटे में COVID -19 का पता लगाने के लिए रैपिड टेस्टिंग डिवाइस विकसित की

IIT खड़गपुर के शोधकर्ताओं ने एक नई कम लागत वाली, पोर्टेबल डिवाइस विकसित की है जो कोविड-19 का परीक्षण कर सकती है और एक घंटे में परिणाम दे सकती है। नई तकनीक में आरटी-पीसीआर परीक्षण के समान सटीकता है, जिसे अब परीक्षण के लिए मानक माना जाता है। नमूने का विश्लेषण करने के लिए डिवाइस एक डिस्पोजेबल पेपर पट्टी का उपयोग करतीRead More...