गुरु नानक देव की 550वीं जयंती

इस श्रेणी में गुरु नानक देव की 550वीं जयंती से संबन्धित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

आज देश भर में मनाई जा रही है गुरु नानक देव जयंती

आज देश भर के सिख समुदाय में गुरु नानक देव की जयंती मनाई जा रही है। वे सिख धर्म के संस्थापक थे। वे सिख धर्म के पहले गुरु थे। उनका जन्म पाकिस्तान के पंजाब में ननकाना साहिब में हुआ था। उनकी शिक्षाओं का संकलन सिख धर्म की धार्मिक पुस्तक गुरु ग्रन्थ साहिब में किया गया है। उनकी मृत्यु 22 सितम्बर, 1539 को पाकिस्तान के करतारपुरRead More...

एयर इंडिया ने अपने विमान पर इक ओंकार चिह्न लगाया

बाबा गुरु नानक देव (सिख धर्म के संस्थापक और दस सिख गुरुओं में से प्रथम) की 550 वीं जयंती को चिह्नित करने के लिए, एयर इंडिया ने अपने एक विमान पर सिख धार्मिक प्रतीक 'इक ओंकार’ चित्रित किया है। ‘इक ओंकार' का धार्मिक प्रतीक सिख धार्मिक दर्शन का एक केंद्रीय सिद्धांत है। तथ्य गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती जिसे प्रकाश पर्वRead More...

करतारपुर: पाकिस्तान सरकार गैर-भारतीय सिखों को पर्यटक वीजा जारी करेगी

गुरु नानक देव की 550 वीं जयंती समारोह के उपलक्ष्य में, पाकिस्तान सरकार अब गैर-भारतीय सिखों को करतारपुर कॉरिडोर और देश के अन्य गुरुद्वारों में जाने के लिए पर्यटक वीजा जारी करेगी। मुख्य तथ्य भारत और पाकिस्तान के बीच 24 अक्टूबर 2019 को हस्ताक्षरित ऐतिहासिक करतारपुर कॉरिडोर समझौते के तहत, एक दिन के लिए भारत से आने वालेRead More...

पंजाब में की जाएगी भारत के पहले अंतर-धर्म अध्ययन संस्थान की स्थापना

भारत सरकार ने भाईचारे व विविधता को बढ़ावा देने के लिए पंजाब में अंतर-धर्म अध्ययन संस्थान शुरू करने का निर्णय लिया है। यह गुरु नानक देव की 550वीं जयंती समारोह का हिस्सा है। इस संस्थान के लिए राज्य सरकार निशुल्क भूमि उपलब्ध करवाएगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरु नानक देव की 550वीं जयंती समारोह के लिए की राष्ट्रीयRead More...

23 नवम्बर, 2018: गुरु नानक देव की जयंती

23 नवम्बर, 2018 को गुरु नानक देव की जयंती मनाई जा रही है। वे सिख धर्म के संस्थापक थे। वे सिख धर्म के पहले गुरु थे। उनका जन्म पाकिस्तान के पंजाब में ननकाना साहिब में हुआ था। उनकी शिक्षाओं का संकलन सिख धर्म की धार्मिक पुस्तक गुरु ग्रन्थ साहिब में किया गया है। उनकी मृत्यु 22 सितम्बर, 1539 को पाकिस्तान के करतारपुर में हुईRead More...