भारत रूस सम्बन्ध Page-3

इस श्रेणी में भारत रूस सम्बन्ध से संबन्धित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

नई दिल्ली में किया गया IRIGC-MTC की 18वीं बैठक का आयोजन

हाल ही में भारत की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने रूसी रक्षा मंत्री जनरल सेर्गेई शोइगू से 18वीं सैन्य तकनीकी सहयोग पर भारतीय-रूसी अंतरसरकारी आयोग (IRIGC-MTC) की बैठक के दौरान मुलाकात की, इस बैठक का आयोजन नई दिल्ली में किया गया था। मुख्य बिंदु इस बैठक में रक्षा उपकरण, उद्योग तथा भारत व रूस के बीच तकनीकी सहयोग समेतRead More...

इंद्र नौसेना : भारतीय और रूसी नौसेनाओं के बीच विशाखापत्तनम में शुरू हुआ युद्ध अभ्यास

भारत और रूस की नौसेनाओं के बीच “इंद्र नौसेना” युद्ध अभ्यास का 10वां संस्करण आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम में शुरू हुआ। इस युद्ध अभ्यास का उद्देश्य दोनों नौसेनाओं के बीच इंटरओपेराबिलिटी को बढ़ावा देना तथा समुद्री सुरक्षा ऑपरेशन के सम्बन्ध में आपसी समझ को विकसित करना है। इंद्र नौसेना 2018 इस युद्ध अभ्यास काRead More...

भारत-रूस के बीच किया गया प्रथम सामरिक आर्थिक वार्ता का आयोजन

भारत और रूस के बीच प्रथम सामरिक आर्थिक वार्ता का आयोज रूस के सेंट पीटर्सबर्ग में 25 नवम्बर, 2018 को किया गया। मुख्य बिंदु इस वार्ता में भारतीय दल का प्रतिनिधित्व निति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने किया। जबकि रूसी प्रतिनधिमंडल का प्रतिनिधित्व आर्थिक विकास मंत्री मैक्सिम ओरेश्किन ने किया। इस दिवसीय फोरमRead More...

18 नवम्बर से भारत और रूस के बीच शुरू होगा इंद्र-2018 युद्ध अभ्यास

भारत और रूस के बीच संयुक्त सैन्य अभ्यास इंद्र-2018 का आरम्भ 18 नवम्बर से होगा, इस युद्ध अभ्यास का आयोजन बबीना छावनी में किया जायेगा। यह युद्ध अभ्यास 11 दिन तक चलेगा। इस अभ्यास में भारत की इन्फेंट्री बटालियन तथा रूस की पांचवीं बटालियन हिस्सा लेंगी। इस सैन्य अभ्यास का उद्देश्य दोनों देशों की सेनाओं के बीच रणनीतिकRead More...

भारत ने रूस के साथ दो अपग्रेडेड क्रिवक III श्रेणी के युद्धपोत की खरीद के लिए 950 मिलियन डॉलर के अनुबंध पर हस्ताक्षर किये

भारत ने रूस के साथ दो अपग्रेडेड क्रिवक III श्रेणी के युद्धपोत की खरीद के लिए 950 मिलियन डॉलर के अनुबंध पर हस्ताक्षर किये। इन युद्ध पोतों का इस्तेमाल भारतीय नौसेना द्वारा किया जायेगा। मुख्य बिंदु इन दो युद्ध पोतों को प्रोजेक्ट 11356 के तहत प्रत्यक्ष रूप से रूस से खरीदा जायेगा, बाद में दो अन्य युद्ध पोतों को भारतीयRead More...