मिशन चंद्रयान-2

इस श्रेणी में मिशन चंद्रयान-2 से संबन्धित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

2021 में लांच किया जायेगा चंद्रयान-3

भारतीय अन्तरिक्ष अनुसन्धान संगठन वर्ष 2021 के आरम्भ में चंद्रयान-3 को लांच करने के लिए कार्य कर रहा है। हालाँकि यह मिशन वर्ष 2020 में लांच किया जाना था, परन्तु कोरोनावायरस के चलते कार्य में काफी देरी हुई है। चंद्रयान-3 में चन्द्रमा की सतह पर लैंडर की सॉफ्ट लैंडिंग की जायेगी। चंद्रयान-3 में एक लैंडर और एक रोवर होगा,Read More...

इसरो चन्द्रमा पर लैंडिंग के लिए लांच करेगा चंद्रयान-3

भारतीय अन्तरिक्ष अनुसन्धान संगठन ने  चन्द्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग के प्रयास की घोषणा की है। यह कार्य इस वर्ष के अंत तक अथवा अगले वर्ष तक पूर्ण हो सकता है । इसरो का चंद्रयान-2 मिशन चंद्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग करने में नाकाम रहा था। सॉफ्ट लैंडिंग के समय इसरो का लैंडर विक्रम से सम्पर्क टूट गया था। हालांकिRead More...

चंद्रयान-2 का लैंडर ‘विक्रम’ लक्ष्य स्थान के 500 दायरे में लैंड में हुआ है : केंद्र सरकार

प्रधानमंत्री कार्यालय में राज्य मंत्री श्री जितेन्द्र सिंह ने लोकसभा में लिखित में जवाब देकर स्पष्ट किया है कि चंद्रयान-2 का लैंडर ‘विक्रम’ लक्ष्य स्थान के 500 दायरे में लैंड में हुआ था। चंद्रयान-2 के लैंडर ‘विक्रम’ का संपर्क इसरो के ग्राउंड स्टेशन से लैंडिंग से ठीक पहले टूट गया था। जब यह संपर्क टूटा उस समय  ‘विक्रम’Read More...

चंद्रयान 3 : भारत नवम्बर 2020 तक चन्द्रमा पर दूसरी बार लैंडिंग का प्रयास करेगा

भारतीय अन्तरिक्ष अनुसन्धान संगठन ने नवम्बर 2020 तक चन्द्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग के प्रयास की घोषणा की है। हाल ही में इसरो का चंद्रयान-2 मिशन चंद्रमा की सतह पर सॉफ्ट लैंडिंग करने में नाकाम रहा था। सॉफ्ट लैंडिंग के समय इसरो का लैंडर विक्रम से सम्पर्क टूट गया था। हालांकि चंद्रयान-2 का ऑर्बिटर अभी भी अपना कार्यRead More...

चंद्रयान 2 : चन्द्रमा के बाह्यमंडल में आर्गन 40 की खोज की गयी

चंद्रयान 2 ने चन्द्रमा के बाह्यमंडल में आर्गन 40 की खोज की। आर्गन 40 आर्गन का एक आइसोटोप है। इसरो ने आर्गन 40 के चन्द्रमा के बाह्यमंडल में पहुँचने की प्रक्रिया का विस्तृत वर्णन किया है। यह पोटैशियम-40 के रेडियोएक्टिव विखंडन से उत्पन्न होता है। मुख्य बिंदु CHACE-20 (Chandra’s Atmospheric Composition Explorer 2) चंद्रयान-2 ऑर्बिटर में लगा हुआ एक पेलोडRead More...