स्टैण्डर्ड एंड पूअर्स

इस श्रेणी में स्टैण्डर्ड एंड पूअर्स से संबन्धित हिन्दी भाषा के करेंट अफेयर्स (समाचार सारांश) एवं समसामयिक घटनाक्रम का SSC, Railways, RAS/RPSC, BPSC, MPPSC, JPSC, HPSC, UPPSC, UKPSC एवं अन्य प्रतियोगिता परीक्षाओं के लिए महत्वपूर्ण समाचारों का संग्रह किया गया है।

फिच रेटिंग्स ने अगले वित्त वर्ष में भारत की जीडीपी वृद्धि दर  9.5% रहने का अनुमान लगाया  

वैश्विक रेटिंग एजेंसी फिच रेटिंग्स ने अनुमान लगाया है कि भारत की अर्थव्यवस्था अगले वित्त वर्ष में 9.5 प्रतिशत की वृद्धि दर के साथ वापसी करेगी। इससे पहले, फिच रेटिंग ने अनुमान लगाया था कि अप्रैल 2020 से शुरू होने वाले चालू वित्त वर्ष में भारत की जीडीपी वृद्धि 5 प्रतिशत पर आ जाएगी। यह भी उजागर हुआ है कि 9.5% की वृद्धिRead More...

फिच रेटिंग्स ने 2020-21 के लिए भारत की विकास दर के अनुमान को 5.1% से घटाकर 2% किया

फिच रेटिंग्स ने भारत के वित्त वर्ष 2020-21 के लिए भारत की विकास दर के अनुमान को 2% कर दिया है। पहले फिच रेटिंग्स ने वित्त वर्ष 2020-21 में विकास दर 5.1% रहने का अनुमान लगाया था। इसका मुख्य कारण कोरोनावायरस प्रकोप के कारण धीमी आर्थिक गतिविधियाँ है। फिच रेटिंग्स फिच रेटिंग्स विश्व की तीन सबसे बड़ी रेटिंग एजेंसियों में से एकRead More...

मूडीज़ ने भारत की आर्थिक विकास की दर के अनुमान को कम किया

अमेरिकी क्रेडिट रेटिंग एजेंसी कंपनी मूडीज़ ने भारत की आर्थिक विकास की दर के अनुमान में कमी की है। मूडीज़ ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की जीडीपी वृद्धि दर के अनुमान में कमी करके इसे 5.6% किया है। हालाँकि वर्ष 2020 में जीडीपी विकास दर में वृद्धि होने के आसार जताए गये हैं, अगले वर्ष जीडीपी विकास दर 6.6% रहने का अनुमान है।Read More...

मूड़ीज़ ने भारत की आर्थिक विकास की दर के अनुमान में कमी की

अमेरिकी क्रेडिट रेटिंग एजेंसी कंपनी मूडीज़ ने भारत की आर्थिक विकास की दर के अनुमान में कमी की है। मूडीज़ ने चालू वित्त वर्ष के लिए भारत की जीडीपी वृद्धि दर के अनुमान में कमी करके इसे 5.6% किया है। हालाँकि वर्ष 2020 में जीडीपी विकास दर में वृद्धि होने के आसार जताए गये हैं, अगले वर्ष जीडीपी विकास दर 6.6% रहने का अनुमान है।Read More...

फिच रेटिंग्स ने भारत के जीडीपी दर के अनुमान को घटाकर किया 7.2%

फिच रेटिंग्स ने भारत के वर्तमान वित्त वर्ष 2018-19 के लिए भारत की सकल घरेलु उत्पादन दर के अनुमान को 7.8% घटाकर  7.2% कर दिया है। हालाँकि फिच रेटिंग्स ने भारत के बढ़ते हुए तेल के व्यय तथा कमज़ोर बैंक बैलेंस शीट पर भी प्रकाश डाला है। मुख्य बिंदु सितम्बर में फिच रेटिंग्स ने जीडीपी की विकास दर  7.8% रहने के अनुमान लगाया था, अबRead More...